Menu

header photo

BLOG POST

2648

ट्रीटमेंट के 'लेवल' से बिगड़ रही पेशेंट्स की हालत

ट्रीटमेंट के 'लेवल' से बिगड़ रही पेशेंट्स की हालत
- कोरोना के क्रिटिकल पेशेंट्स के मैनेजमेंट में सामने आई बड़ी कमी, हायर सेंटर की जगह अपने ही लेवल के दूसरे हॉस्पिटल में रेफर हो रहे मरीज

-कांशीराम हॉस्पिटल ने 7 एयरफोर्स हॉस्पिटल को लेवल थ्री समझकर भेज दिया पेशेंट, देरी से और सही जगह न रेफर करने की लगातार मिल रहीं शिकायतें

KANPUR: कोरोनो पेशेंट्स के ट्रीटमेंट में कोऑर्डिनेशन की कमी और कम्यूनिकेशन गैप एक बड़ी समस्या निकलकर सामने आई है। डॉक्टर्स को ही नहीं पता है कि कौन सा हॉस्पिटल किस लेवल का है और किस पेशेंट को कहां रेफर करना है। क्रिटिकल पेशेंट्स को रेफर करने में एक बड़ी कमी थर्सडे को भी सामने आई। कांशीराम अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे डीएम आलोक तिवारी को एक पेशेंट के तीमारदार ने बताया कि अस्पताल में भर्ती उसके मरीज को डॉक्टरों ने सेवेन एयरफोर्स हॉस्पिटल रेफर कर दिया। बाद में पता चला कि दोनों एक ही लेवल के हॉस्पिटल थे। इस दौरान उसके मरीज की मौत भी हो गई। शिकायत पर जब डीएम ने जानकारी मांगी तो डॉक्टर ने एयरफोर्स हॉस्पिटल को लेवल-3 कैटेगरी का बताया जबकि वह लेवल-2 का है। इस तरह की शिकायतें पहले भी मिलती रही हैं। जिसमें तीमारदारों ने देरी से रेफर करने, सही जगह न रेफर करने के आरोप लगाए। इस दौरान कुछ कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत भी हो गई।

Go Back

Comments for this post have been disabled.

Read Also .....

Kanpur Dehat News

Blog Archive

Pressonline